Please Wait...

गणेश उपासना: Ganesha Upasana

पुस्तक के विषय में

प्रणव के बिना जैसे वेदमंत्र शक्तिहीन है, उसी तरह गणपति की पूर्ववंदना के बिना सभी 'कर्मकाण्ड' विधियां अपना अर्थ खो देती है |

गणेश आदि देव है | कैसे प्रसन्न करें शिवनंदन विघ्नविनाशक को, इसकी विस्तृत जानकारी इस पुस्तक में दी गयी है | इसमें है इनकी प्राकट्य कथा, प्रमुख अवतार, चतुर्थी व्रतविधि, महात्मय, कथाएं, सांगोपांग पूजनविधि, विभिन्न स्तोत्र, मंत्र, चालीसा और आरती वंदन |

पुस्तक में वर्णित विधि द्वारा उपासना करने से आपकी सभी मनचाही कामनाएं निर्विघ्न पूर्ण होंगी, सभी सिद्धियां आपके घर में निवास करेंगी और सभी आपदाएं अपने आप विनष्ट हो जाएँगी |

 

 

Sample Pages








Add a review

Your email address will not be published *

For privacy concerns, please view our Privacy Policy

Post a Query

For privacy concerns, please view our Privacy Policy

CATEGORIES

Related Items